Uttarakhand: Police Issues High Alert After French President Statement On Specific Community – उत्तराखंड : फ्रांस के राष्ट्रपति की समुदाय विशेष को लेकर की गई टिप्पणी के बाद पुलिस ने जारी किया हाई अलर्ट

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर


कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

फ्रांस में हुए आतंकी हमले के बाद राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों की समुदाय विशेष को लेकर की गई टिप्पणी के बाद गृह मंत्रालय भारत सरकार के निर्देश पर उत्तराखंड में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है।

केंद्र के गाइडलाइन जारी करने के बाद उत्तराखंड पुलिस के डीजी कानून व्यवस्था अशोक कुमार ने सुरक्षा अलर्ट जारी कर दिया है।

पुलिस मुख्यालय द्वारा राज्य के सभी 13 जिलों के एसपी-एसएसपी को विशेष सतर्क रहते हुए अपने इलाकों में शांति व कानून व्यवस्था कड़े करने के निर्देश दिए गए हैं।

डीजी अशोक कुमार ने बताया कि उन्होंने सभी कप्तानों से मिश्रित आबादी में गश्त पहरा बढ़ाने और सभी धर्म गुरुओं के साथ बैठक करने को भी कहा है। ताकि, त्योहारी सीजन पर साम्प्रदायिक सौहार्द बना रहे।

पेरिस में एक स्कूल टीचर की हत्या करने के बाद से हिंसा के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। फ्रांस में स्कूलों और पूजास्थलों के पास सैनिकों की तैनाती को ज्यादा बढ़ाया गया है। 

फ्रांस में पैगंबर मोहम्मद के कार्टून को लेकर शुरू हुए विवाद के बाद से दुनियाभर के मुस्लिम और खासकर मुस्लिम देश फ्रांस को निशाना बनाए हुए हैं। कई देशों ने फ्रांस के सामान के बहिष्कार की भी अपील की है। 

 

फ्रांस में हुए आतंकी हमले के बाद राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों की समुदाय विशेष को लेकर की गई टिप्पणी के बाद गृह मंत्रालय भारत सरकार के निर्देश पर उत्तराखंड में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है।

केंद्र के गाइडलाइन जारी करने के बाद उत्तराखंड पुलिस के डीजी कानून व्यवस्था अशोक कुमार ने सुरक्षा अलर्ट जारी कर दिया है।

पुलिस मुख्यालय द्वारा राज्य के सभी 13 जिलों के एसपी-एसएसपी को विशेष सतर्क रहते हुए अपने इलाकों में शांति व कानून व्यवस्था कड़े करने के निर्देश दिए गए हैं।

डीजी अशोक कुमार ने बताया कि उन्होंने सभी कप्तानों से मिश्रित आबादी में गश्त पहरा बढ़ाने और सभी धर्म गुरुओं के साथ बैठक करने को भी कहा है। ताकि, त्योहारी सीजन पर साम्प्रदायिक सौहार्द बना रहे।

पेरिस में एक स्कूल टीचर की हत्या करने के बाद से हिंसा के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। फ्रांस में स्कूलों और पूजास्थलों के पास सैनिकों की तैनाती को ज्यादा बढ़ाया गया है। 

फ्रांस में पैगंबर मोहम्मद के कार्टून को लेकर शुरू हुए विवाद के बाद से दुनियाभर के मुस्लिम और खासकर मुस्लिम देश फ्रांस को निशाना बनाए हुए हैं। कई देशों ने फ्रांस के सामान के बहिष्कार की भी अपील की है। 

 

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *