Uttarakhand Latest News: Four Lane Bridge Collapse On Rishikesh Badrinath Highway, 14 Labourers Injured – ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे पर गिरा निर्माणाधीन फोरलेन ब्रिज, एक मजदूर की मौत, 13 अस्पताल में भर्ती

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, ऋषिकेश
Updated Sun, 22 Nov 2020 08:48 PM IST

ख़बर सुनें

उत्तराखंड में ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे पर रविवार रात दर्दनाक हादसा हो गया। गूलर के पास एक निर्माणाधीन फोरलेन ब्रिज भरभराकर गिर गया। जानकारी के अनुसार, यहां 15 मजदूर काम कर रहे थे, जिसमें 14 मजदूरों को गंभीर हालत में हायर सेंटर रेफर किया गया, जिसमें से उपचार के दौरान एक मजदूर की मौत हो गई। एसडीआरएफ के अधिकारियों की इसकी पुष्टि की है।

सूचना मिलते ही पुलिस प्रशासन और एसडीआरएफ की टीम मौके के लिए रवाना हुई। मुनिकीरेती थानाध्यक्ष आरके सकलानी ने अनुसार, हादसे में एक मजदूर सुरक्षित है, जबकि 13 गंभीर घायल हुए। 

पीडब्ल्यूडी राष्ट्रीय राजमार्ग खंड के सहायक अभियंता मृत्युंजय शर्मा के अनुसार, पुल की शटरिंग लगाने के दौरान यह हादसा हुआ। सोमवार को पुल का स्लैब पड़ना था। 90 मीटर पुल का आधा हिस्सा पहले बन चुका है। अब 45 मीटर का निर्माण होना था। निर्माणाधीन हिस्से की शटरिंग गिरी है।

उन्होंने बताया कि इस पैकेज में राज श्यामा कंस्ट्रक्शन कंपनी काम कर रही है। जबकि भारत सरकार ने अयोलिजा कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड को कंसल्टेंसी एजेंसी नियुक्त किया है। कंसल्टेंसी कंपनी की निगरानी में काम होता है। कंपनी की ओर से काम में गड़बड़ी की कोई शिकायत नहीं की गई थी।

वहीं, लोक निर्माण विभाग के सचिव आरके सुधांशु ने एनएच के चीफ इंजीनियर को हादसे की जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने कहा कि मामले में कॉन्ट्रेक्टर के खिलाफ कार्रवाई होगी। जांच के लिए टीम को भी रवाना कर दिया गया है। 

पोखरी में रामनगर से राशन लेकर पोखरी पहुंचा एक ट्रक विनायकधार में अनियंत्रित होकर खाई में लुढ़क गया और एक मकान की छत पर जा गिरा। हादसे में ट्रक चालक महेंद्र सिंह (50) भवानीगंज, रामनगर, नैनीताल की मौत हो गई।

पोखरी थाना प्रभारी मनोहर भंडारी ने बताया कि रविवार शाम करीब पौने पांच बजे रामनगर से राशन लेकर चालक ट्रक को विनायकधार में सड़क किनारे लगा रहा था, इसी दौरान ट्रक अनियंत्रित होकर खाई में जा गिरा और एक मकान की छत पर अटक गया।

मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने चालक को खाई से निकालकर एंबुलेंस से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पोखरी में भर्ती कराया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद उसे इलाज के लिए हायर सेंटर रेफर कर दिया। हायर सेंटर ले जाते समय रास्ते में ही ही उसने दम तोड़ दिया। 

उत्तराखंड में ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे पर रविवार रात दर्दनाक हादसा हो गया। गूलर के पास एक निर्माणाधीन फोरलेन ब्रिज भरभराकर गिर गया। जानकारी के अनुसार, यहां 15 मजदूर काम कर रहे थे, जिसमें 14 मजदूरों को गंभीर हालत में हायर सेंटर रेफर किया गया, जिसमें से उपचार के दौरान एक मजदूर की मौत हो गई। एसडीआरएफ के अधिकारियों की इसकी पुष्टि की है।

सूचना मिलते ही पुलिस प्रशासन और एसडीआरएफ की टीम मौके के लिए रवाना हुई। मुनिकीरेती थानाध्यक्ष आरके सकलानी ने अनुसार, हादसे में एक मजदूर सुरक्षित है, जबकि 13 गंभीर घायल हुए। 

पीडब्ल्यूडी राष्ट्रीय राजमार्ग खंड के सहायक अभियंता मृत्युंजय शर्मा के अनुसार, पुल की शटरिंग लगाने के दौरान यह हादसा हुआ। सोमवार को पुल का स्लैब पड़ना था। 90 मीटर पुल का आधा हिस्सा पहले बन चुका है। अब 45 मीटर का निर्माण होना था। निर्माणाधीन हिस्से की शटरिंग गिरी है।

उन्होंने बताया कि इस पैकेज में राज श्यामा कंस्ट्रक्शन कंपनी काम कर रही है। जबकि भारत सरकार ने अयोलिजा कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड को कंसल्टेंसी एजेंसी नियुक्त किया है। कंसल्टेंसी कंपनी की निगरानी में काम होता है। कंपनी की ओर से काम में गड़बड़ी की कोई शिकायत नहीं की गई थी।

वहीं, लोक निर्माण विभाग के सचिव आरके सुधांशु ने एनएच के चीफ इंजीनियर को हादसे की जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने कहा कि मामले में कॉन्ट्रेक्टर के खिलाफ कार्रवाई होगी। जांच के लिए टीम को भी रवाना कर दिया गया है। 


आगे पढ़ें

सड़क से लुढ़ककर मकान की छत पर गिरा ट्रक, चालक की मौत 

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *