Pakistan MP speaking in Parliament on Wednesday claimed that fearing an attack by India | विदेश मंत्री बोले थे- अगर हमने रात 9 बजे तक विंग कमांडर अभिनंदन को नहीं छोड़ा, तो भारत हमला कर देगा

इस्लामाबाद10 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

विंग कमांडर अभिनंदन 1 मार्च को अटारी-वाघा बॉर्डर से भारत लौटे थे। -फाइल फोटो

पाकिस्तान के एक सांसद ने बुधवार को पाकिस्तान की संसद में दावा किया कि भारत के हमले के डर से इमरान खान सरकार ने भारतीय वायु सेना के पायलट विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को रिहा कर दिया था। पिछले साल फरवरी में भारतीय और पाकिस्तानी एयर फोर्स के बीच हुए हवाई हमले के बाद विंग कमांडर अभिनंदन को पाकिस्तानी सेना ने हिरासत में ले लिया था।

नेशनल असेंबली में बुधवार को पाकिस्तान मुस्लिम लीग-एन (PML-N) नेता अयाज सादिक ने कहा कि विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने एक अहम मीटिंग में कहा था कि अगर हम विंग कमांडर अभिनंदन को नहीं छोड़ते हैं, तो भारत रात 9 बजे तक हम पर हमला करेगा। पाकिस्तान के दुनिया न्यूज ने सांसद सादिक के हवाले से यह जानकारी दी है।

‘मीटिंग के दौरान आर्मी चीफ कांप रहे थे’

PML-N नेता ने विपक्षी नेताओं को बताया कि इस मुद्दे को लेकर कुरैशी ने PPP, PML-N और सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा समेत अन्य नेताओं के साथ बैठक की थी। सादिक ने कहा, ‘‘मुझे याद है मीटिंग के दौरान आर्मी चीफ बाजवा कमरे में आए। उस समय उनके पैर कांप रहे थे और वे पसीना-पसीना थे।’’

सादिक ने बताया- इस मीटिंग में शामिल होने से इमरान खान ने इनकार कर दिया था। विदेश मंत्री ने मीटिंग में आर्मी चीफ से कहा था- अल्लाह के वास्ते अभिनंदन को जाने दो, नहीं तो भारत रात 9 बजे तक हमला कर देगा।दुनिया न्यूज ने सांसद सादिक के हवाले से कहा कि विपक्ष ने अभिनंदन समेत सभी मुद्दों में सरकार का समर्थन किया है, लेकिन आगे समर्थन नहीं कर पाएंगे।

विंग कमांडर अभिनंदन 1 मार्च को वाघा बॉर्डर से देश लौटे थे

फरवरी 2019 में पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों ने भारतीय वायु सीमा में घुसपैठ की कोशिश की थी। इस दौरान मिग-21 पर सवार विंग कमांडर वर्धमान ने पाकिस्तान के F-16 एयरक्राफ्ट को मार गिराया था। इस भिड़ंत में उनका विमान पाकिस्तान की ओर जा गिरा था। इसके बाद विंग कमांडर अभिनंदन 1 मार्च को अटारी-वाघा बॉर्डर से भारत लौटे थे।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *