Former Goa Governor Mridula Sinha Demise At Age Of 77, Pm Modi And Amit Shah Grieve – गोवा की पूर्व राज्यपाल मृदुला सिन्हा का निधन, पीएम मोदी और अमित शाह ने जताया दुख

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Wed, 18 Nov 2020 05:00 PM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

गोवा की पूर्व राज्यपाल और प्रतिष्ठित साहित्यकार मृदुला सिन्हा का बुधवार को निधन हो गया। वह 77 बरस की थीं। 27 नवंबर 1942 को बिहार के मुजफ्फरपुर में जन्मी मृदुला सिन्हा शुरू से जनसंघ से जुड़ी रही हैं। उनकी गिनती बीजेपी के प्रभावी नेताओं में की जाती थी। वह एक सफल राजनीतिज्ञ के अलावा एक सफल लेखिका भी रहीं हैं। मृदुला सिन्हा गोवा की पहली महिला राज्यपाल थीं। उनके निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह सहित भाजपा के नेताओं ने गहरी शोक संवेदना व्यक्त की है।

पीएम मोदी ने जताया दुख
पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘मृदुला सिन्हा जी को जनता की सेवा के लिए उनके प्रयासों के लिए याद किया जाएगा। वह एक कुशल लेखिका भी थीं, जिन्होंने साहित्य के साथ-साथ संस्कृति की दुनिया में भी व्यापक योगदान दिया। उनके निधन से दुखी हूं। उनके परिवार और प्रशंसकों के प्रति संवेदना। ओम शांति।’
 

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा- मृदुला सिन्हा जी का निधन बहुत दुःखद है
वहीं, गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर कहा, ‘गोवा की पूर्व राज्यपाल और वरिष्ठ भाजपा नेता मृदुला सिन्हा जी का निधन बहुत दुःखद है। उन्होंने जीवन पर्यन्त राष्ट्र, समाज और संगठन के लिए काम किया। वह एक निपुण लेखिका भी थी, जिन्हें उनके लेखन के लिए भी सदैव याद किया जाएगा। उनके परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूँ। ॐ शान्ति।’
 

मृदुला सिन्हा जी का निधन भाजपा परिवार के लिए एक अपूर्णीय क्षति- गिरिराज सिंह 
बिहार के बेगुसराय से भाजपा से सांसद गिरिराज सिंह ने भी उन्हें श्रद्धांजलि दी। उन्होंने लिखा, ‘गोवा की पूर्व राज्यपाल, प्रख्यात साहित्यकार एवं भाजपा की वरिष्ठ नेत्री मृदुला सिन्हा जी के निधन से मन व्यथित है। उनका निधन भाजपा परिवार के लिए एक अपूर्णीय क्षति है। हमारे माथे पर से एक आशीर्वाद उठ गया। प्रभु उनकी आत्मा को शांति दें।’

गोवा की पूर्व राज्यपाल और प्रतिष्ठित साहित्यकार मृदुला सिन्हा का बुधवार को निधन हो गया। वह 77 बरस की थीं। 27 नवंबर 1942 को बिहार के मुजफ्फरपुर में जन्मी मृदुला सिन्हा शुरू से जनसंघ से जुड़ी रही हैं। उनकी गिनती बीजेपी के प्रभावी नेताओं में की जाती थी। वह एक सफल राजनीतिज्ञ के अलावा एक सफल लेखिका भी रहीं हैं। मृदुला सिन्हा गोवा की पहली महिला राज्यपाल थीं। उनके निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह सहित भाजपा के नेताओं ने गहरी शोक संवेदना व्यक्त की है।

पीएम मोदी ने जताया दुख

पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘मृदुला सिन्हा जी को जनता की सेवा के लिए उनके प्रयासों के लिए याद किया जाएगा। वह एक कुशल लेखिका भी थीं, जिन्होंने साहित्य के साथ-साथ संस्कृति की दुनिया में भी व्यापक योगदान दिया। उनके निधन से दुखी हूं। उनके परिवार और प्रशंसकों के प्रति संवेदना। ओम शांति।’
 

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा- मृदुला सिन्हा जी का निधन बहुत दुःखद है
वहीं, गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर कहा, ‘गोवा की पूर्व राज्यपाल और वरिष्ठ भाजपा नेता मृदुला सिन्हा जी का निधन बहुत दुःखद है। उन्होंने जीवन पर्यन्त राष्ट्र, समाज और संगठन के लिए काम किया। वह एक निपुण लेखिका भी थी, जिन्हें उनके लेखन के लिए भी सदैव याद किया जाएगा। उनके परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूँ। ॐ शान्ति।’
 

मृदुला सिन्हा जी का निधन भाजपा परिवार के लिए एक अपूर्णीय क्षति- गिरिराज सिंह 
बिहार के बेगुसराय से भाजपा से सांसद गिरिराज सिंह ने भी उन्हें श्रद्धांजलि दी। उन्होंने लिखा, ‘गोवा की पूर्व राज्यपाल, प्रख्यात साहित्यकार एवं भाजपा की वरिष्ठ नेत्री मृदुला सिन्हा जी के निधन से मन व्यथित है। उनका निधन भाजपा परिवार के लिए एक अपूर्णीय क्षति है। हमारे माथे पर से एक आशीर्वाद उठ गया। प्रभु उनकी आत्मा को शांति दें।’

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *