Counseling In All Districts For Appointment To Selected Candidates On 36590 Posts From 2 To 4 December – सहायक अध्यापक : 36590 पदों पर चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति के लिए सभी जिलों में काउंसलिंग 2 से 4 दिसंबर तक

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ
Updated Tue, 24 Nov 2020 06:16 PM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

सहायक अध्यापकों के 36590 पदों पर चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति के लिए सभी जिलों में काउंसलिंग 2 से 4 दिसंबर तक होगी। नियुक्ति पत्र वितरण का कार्यक्रम बाद में जारी किया जाएगा। प्रदेश में विधान परिषद चुनाव की आचार संहिता के मद्देनजर बेसिक शिक्षा विभाग ने प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी से चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति देने की अनुमति मांगी थी। सीईओ ने विभाग का प्रार्थनापत्र भारत निर्वाचन आयोग को भेज दिया है। 31,277 चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति मिल चुकी है।

अनुसूचित जनजाति के योग्य अभ्यर्थी नहीं मिलने से रिक्त रहे 1133 पदों को छोड़कर अब शेष करीब 36,590 पदों पर नियुक्ति होनी है। सर्वोच्च न्यायालय के सरकार की ओर से निर्धारित कटऑफ के आधार पर नियुक्ति देने के आदेश के बाद काउंसलिंग की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में वर्ष 2021 में पचास हजार सहायक अध्यापकों की भर्ती जाएगी। विभाग ने इसकी कवायद शुरू कर दी है। फिलहाल चल रही 69 हजार सहायक अध्यापकों की भर्ती पूरी होने के बाद भी परिषदीय स्कूलों में 50 हजार पद खाली रह जाएंगे। सूत्रों के मुताबिक 69 हजार सहायक अध्यापकों की भर्ती में शेष शिक्षकों को दिसंबर तक नियुक्ति देने के बाद नई भर्ती का विज्ञापन निकालने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।

परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय की ओर से फरवरी-मार्च में शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) कराई जाएगी। इसका परिणाम जारी होने के साथ ही 50 हजार सहायक अध्यापकों की भर्ती का विज्ञापन निकालने की तैयारी है ताकि विधानसभा चुनाव 2022 से पहले परिषदीय स्कूलों में अध्यापकों के रिक्त पद भरे जा सकें।

सहायक अध्यापकों के 36590 पदों पर चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति के लिए सभी जिलों में काउंसलिंग 2 से 4 दिसंबर तक होगी। नियुक्ति पत्र वितरण का कार्यक्रम बाद में जारी किया जाएगा। प्रदेश में विधान परिषद चुनाव की आचार संहिता के मद्देनजर बेसिक शिक्षा विभाग ने प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी से चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति देने की अनुमति मांगी थी। सीईओ ने विभाग का प्रार्थनापत्र भारत निर्वाचन आयोग को भेज दिया है। 31,277 चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति मिल चुकी है।

अनुसूचित जनजाति के योग्य अभ्यर्थी नहीं मिलने से रिक्त रहे 1133 पदों को छोड़कर अब शेष करीब 36,590 पदों पर नियुक्ति होनी है। सर्वोच्च न्यायालय के सरकार की ओर से निर्धारित कटऑफ के आधार पर नियुक्ति देने के आदेश के बाद काउंसलिंग की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में वर्ष 2021 में पचास हजार सहायक अध्यापकों की भर्ती जाएगी। विभाग ने इसकी कवायद शुरू कर दी है। फिलहाल चल रही 69 हजार सहायक अध्यापकों की भर्ती पूरी होने के बाद भी परिषदीय स्कूलों में 50 हजार पद खाली रह जाएंगे। सूत्रों के मुताबिक 69 हजार सहायक अध्यापकों की भर्ती में शेष शिक्षकों को दिसंबर तक नियुक्ति देने के बाद नई भर्ती का विज्ञापन निकालने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।

परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय की ओर से फरवरी-मार्च में शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) कराई जाएगी। इसका परिणाम जारी होने के साथ ही 50 हजार सहायक अध्यापकों की भर्ती का विज्ञापन निकालने की तैयारी है ताकि विधानसभा चुनाव 2022 से पहले परिषदीय स्कूलों में अध्यापकों के रिक्त पद भरे जा सकें।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *