Outsiders Will Not Allowed To Enter Ayodhya, Administration Preparations For Kartik Purnima Fair – आज से बाहरी लोग नहीं आ सकेंगे अयोध्या, कार्तिक पूर्णिमा मेले को लेकर प्रशासन की तैयारी शुरू 

अमर उजाला नेटवर्क, अयोध्या
Updated Fri, 20 Nov 2020 12:00 AM IST

कार्तिक पूर्णिमा स्नान
– फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

परिक्रमा और कार्तिक पूर्णिमा मेले को लेकर प्रशासन ने तैयारी शुरू कर दी है। अयोध्या में गुरुवार तो दूसरे जिलों में आज रूट डायवर्जन कर दिया जाएगा। बाहर के लोगों को अयोध्या नहीं आने दिया जाएगा। गुरुवार को कमिश्नर व आईजी की समीक्षा बैठक में ये निर्देश दिए गए। 

कमिश्नर एमपी अग्रवाल की अध्यक्षता में बैठक के दूसरे चरण में पुलिस महानिरीक्षक संजीव गुप्ता, मंडल के सभी जनपदों के जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एवं राजस्व विभाग के अधिकारियों के साथ कानून-व्यवस्था की समीक्षा की। इसमें कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुए वादों के निस्तारण में तेजी लाने और अन्य परंपरागत त्योहारों को मनाने के निर्देश दिए गए।

कमिश्नर ने कहा कि परिक्रमा मेले को देखते हुए ट्रैफिक डायवर्जन किया जाए और राष्ट्रीय राजमार्ग को पूर्ण रूप से चलने दिया जाए। बाहर के लोग न आए और कोविड प्रोटोकाल का पालन करें। स्थानीय लोगों को स्थानीय स्तर पर ही त्योहार मनाने के लिए आवश्यक कार्रवाई करने को कहा। 

पुलिस महानिरीक्षक डॉ. संजीव गुप्ता ने कहा कि आज ही से अयोध्या में रूट डायवर्जन किया जाए और 20 नवंबर से अन्य जिले डायवर्जन करें। बाहर के लोगों को अयोध्या में न आने दिया जाए। अयोध्या के रौनाही टोल प्लाजा पर ज्यादा भीड़ एकत्र होती है। यहां भीड़ न होने दी जाए। 

जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने बताया कि शासन के निर्देश के मुताबिक पूर्व में निर्णय लिया जा चुका है कि बाहरी लोग अयोध्या में अनावश्यक रूप से न आएं और कोविड-19 के प्रोटोकाल का पालन करते हुए अपने घरों में त्योहार आदि मनाएं। छठ आदि का पर्व भी उसी तरह मनाया जाए इसके लिए साफ-सफाई नगर निगम से किया जाएगा। पुलिस और मजिस्ट्रेट अधिकारी तैनात रहेंगे।

परिक्रमा और कार्तिक पूर्णिमा मेले को लेकर प्रशासन ने तैयारी शुरू कर दी है। अयोध्या में गुरुवार तो दूसरे जिलों में आज रूट डायवर्जन कर दिया जाएगा। बाहर के लोगों को अयोध्या नहीं आने दिया जाएगा। गुरुवार को कमिश्नर व आईजी की समीक्षा बैठक में ये निर्देश दिए गए। 

कमिश्नर एमपी अग्रवाल की अध्यक्षता में बैठक के दूसरे चरण में पुलिस महानिरीक्षक संजीव गुप्ता, मंडल के सभी जनपदों के जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एवं राजस्व विभाग के अधिकारियों के साथ कानून-व्यवस्था की समीक्षा की। इसमें कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुए वादों के निस्तारण में तेजी लाने और अन्य परंपरागत त्योहारों को मनाने के निर्देश दिए गए।

कमिश्नर ने कहा कि परिक्रमा मेले को देखते हुए ट्रैफिक डायवर्जन किया जाए और राष्ट्रीय राजमार्ग को पूर्ण रूप से चलने दिया जाए। बाहर के लोग न आए और कोविड प्रोटोकाल का पालन करें। स्थानीय लोगों को स्थानीय स्तर पर ही त्योहार मनाने के लिए आवश्यक कार्रवाई करने को कहा। 

पुलिस महानिरीक्षक डॉ. संजीव गुप्ता ने कहा कि आज ही से अयोध्या में रूट डायवर्जन किया जाए और 20 नवंबर से अन्य जिले डायवर्जन करें। बाहर के लोगों को अयोध्या में न आने दिया जाए। अयोध्या के रौनाही टोल प्लाजा पर ज्यादा भीड़ एकत्र होती है। यहां भीड़ न होने दी जाए। 

जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने बताया कि शासन के निर्देश के मुताबिक पूर्व में निर्णय लिया जा चुका है कि बाहरी लोग अयोध्या में अनावश्यक रूप से न आएं और कोविड-19 के प्रोटोकाल का पालन करते हुए अपने घरों में त्योहार आदि मनाएं। छठ आदि का पर्व भी उसी तरह मनाया जाए इसके लिए साफ-सफाई नगर निगम से किया जाएगा। पुलिस और मजिस्ट्रेट अधिकारी तैनात रहेंगे।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *