Those coming from Delhi, Rajasthan, Goa and Gujarat will get entry in Maharashtra only after showing covid negative report | महाराष्ट्र में एंट्री से पहले दिल्ली, राजस्थान, गोवा और गुजरात से आने वालों को दिखानी होगी कोरोना निगेटिव रिपोर्ट

  • Hindi News
  • National
  • Those Coming From Delhi, Rajasthan, Goa And Gujarat Will Get Entry In Maharashtra Only After Showing Covid Negative Report

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुुंबई3 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

मुंबई एयरपोर्ट पर यात्री का थर्मल स्क्रीनिंग करता कर्मचारी। महाराष्ट्र में संक्रमितों का आंकड़ा 17 लाख से ज्यादा हो चुका है। (फाइल फोटो)

कोरोना की दूसरी लहर शुरू होने की आहट ने महाराष्ट्र सरकार की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। इसकी रोकथाम के लिए सोमवार को सरकार ने बड़ा फैसला लिया। इसके मुताबिक, अब दिल्ली, राजस्थान, गोवा और गुजरात से महाराष्ट्र जाने वालों के लिए कोविड-19 निगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य कर दिया गया है।

यात्रियों को सफर करने से 72 घंटे पहले इसके लिए कोविड-19 टेस्ट कराना होगा। बगैर कोविड-19 निगेटिव रिपोर्ट के इन राज्यों से महाराष्ट्र पहुंचने वालों को राज्य में एंट्री नहीं दी जाएगी।

हवाई जहाज से आने वालों के लिए SOP

  • दिल्ली-NCR, गोवा, गुजरात और राजस्थान से आने वाले यात्रियों को RT-PCR की निगेटिव रिपोर्ट लेकर आना होगा। रिपोर्ट बोर्डिंग एयरपोर्ट पर चेक होगी। रिपोर्ट का सैंपल पिछले 72 घंटों में लिया होना चाहिए।
  • अगर टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट नहीं है तो मुंबई एयरपोर्ट पर अपने खर्च पर आरटी-पीसीआर टेस्ट कराना होगा। सभी एयरपोर्ट पर कोविड टेस्टिंग केंद्रों की व्यवस्था होगी और यात्रियों को परीक्षण के लिए पैसे देने होंगे।
  • जिन यात्रियों की रिपोर्ट सकारात्मक आती है, उनसे संपर्क किया जाएगा और मौजूदा प्रोटोकॉल के अनुसार इलाज किया जाएगा।
  • संबंधित नगर आयुक्त उसी के लिए नोडल अधिकारी होंगे और यह सुनिश्चित करेंगे कि उपरोक्त निर्देशों का सख्ती से पालन किया जाए।

ट्रेन से आने वालों के लिए नियम

  • दिल्ली NCR, गुजरात, महाराष्ट्र और गोवा से चलने वाले या वहां से गुजरने वाली ट्रेनों के सभी यात्रियों को RT-PCR निगेटिव रिपोर्ट लानी पड़ेगी।
  • महाराष्ट्र में घुसने से ज्यादा से ज्यादा 96 घंटे पहले सैंपल लिया होना चाहिए। जिनके पास निगेटिव RT-PCR रिपोर्ट नहीं होगी उनका उस स्टेशन पर लक्षण और बुखार की जांच की जाएगी, जिनमें लक्षण नहीं होंगे उन्हें जाने दिया जाएगा।
  • वहीं, जिनमें लक्षण होंगे उन्हें अलग करके एंटीजन टेस्ट किया जाएगा, एंटीजन टेस्ट नेगेटिव आने पर घर जाने दिया जाएगा। वहीं जो टेस्ट नहीं कराएंगे या पॉजिटिव आएंगे उन्हें कोविड केयर सेंटर भेजा जाएगा। जहां अपने खर्च पर इलाज कराना होगा।

रोड के जरिए महाराष्ट्र में आने वालों को लेकर नियम

  • सीमावर्ती जिलों में दिल्ली एनसीआर, राजस्थान, गुजरात और गोवा से आने वाले यात्रियों का राज्य की सीमा पर लक्षण और बुखार की जांच होगी।
  • जिनमें लक्षण नहीं होंगे उन्हें गंतव्य तक जाने दिया जाएगा। जिनमें लक्षण होंगे उन्हें वापस घर लौटने का विकल्प दिया जाएगा। जो लक्षणों के बाद भी अंदर आना चाहते हैं उन्हें एंटीजन टेस्ट कराना होगा। निगेटिव आने पर आगे जाने दिया जाएगा।
  • वहीं जो टेस्ट नहीं कराएंगे या पॉजिटिव आएंगे उन्हें कोविड केयर सेंटर भेजा जाएगा, जहां अपने खर्च पर इलाज कराना होगा।

महाराष्ट्र सरकार ने ये बड़े फैसले लिए

  • बगैर मास्क दिखने पर 200 से 500 रुपए का जुर्माना देना होगा।
  • सार्वजनिक स्थानों पर थूकने पर 1,000 रुपए का जुर्माना। तीसरी बार थूकते हुए पकड़े जाने पर 5 हजार रुपए का जुर्माना और 5 दिन की सार्वजनिक सेवा देनी होगी।
  • हर किसी को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा।
  • 60 साल से अधिक आयु वर्ग और 10 साल से नीचे के बच्चों को जरूरत पड़ने पर ही बाहर निकलने की अनुमति होगी।
  • गर्भवती महिलाओं को घर में ही रहने की सलाह दी गई है।

मुख्यमंत्री ने कहा- दूसरी लहर सुनामी जैसी होगी
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को राज्य की जनता को संबोधित करते हुए साफ किया कि वे फिलहाल राज्य में लॉकडाउन नहीं चाहते हैं, लेकिन स्थिति को देखते हुए आगे फैसला लिया जाएगा। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि हमें कोरोना के खिलाफ लड़ाई जीतनी है। इसलिए मंदिर, मस्जिद और गुरुद्वारा में भीड़ नहीं होनी चाहिए।

उन्होंने कहा, ‘कोरोना संकट खत्म नहीं हुआ है। पश्चिम (महाराष्ट्र) ने कोरोना संकट को अधिक गंभीरता से लिया है। पहली की तुलना में कोरोना की दूसरी और तीसरी लहर एक सुनामी जैसी होगी।’

मरीजों का आंकड़ा 17.80 लाख
महाराष्ट्र में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 17 लाख 80 हजार 208 हो गया है। इनमें 81 हजार 512 मरीजों का इलाज चल रहा है। 16 लाख 51 हजार 64 लोग अब तक ठीक हो चुके हैं। संक्रमण से जान गंवाने वालों की संख्या अब 46 हजार 623 हो गई है। पिछले 2 दिनों से राज्य में एक्टिव केस में एक बार फिर से इजाफा देखने को मिला है। इन दो दिनों में करीब 2500 से ज्यादा एक्टिव मरीज बढ़े हैं।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5