Worst Round Of Corona Contagion In Delhi, One Lakh New Infected In 16 Days – दिल्ली में कोरोना संक्रमण का सबसे बुरा दौर, 16 दिन में एक लाख नए संक्रमित

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

दिल्ली फिलहाल संक्रमण के सबसे बुरे दौर से गुजर रही है। विगत 16 दिनों में ही कोरोना के 1 लाख से ज्यादा मामले आ चुके हैं। संक्रमण दर भी 13 फीसदी हो गई है। वहीं, मौत के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, इस माह अब तक 1,02,496 नए मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई है, जबकि, 1202 लोगों की मौत हो चुकी है। 

इस दौरान रोजाना औसत 6,406 नए मामले आए हैं। वहीं, 76 मरीजों ने जान गंवाई है। ऐसा पहली बार है कि महज 16 दिनों में ही इतने मामले आए। इस समय कम जांच होने पर भी संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है। इसके चलते संक्रमण दर 6 फीसदी से बढ़कर 13 फीसदी हो गई है। 

राहत की बात यह है कि इस दौरान 93,885 मरीज स्वस्थ भी हुए हैं। हालांकि, गंभीर मरीजों की संख्या बढ़ रही है। इस कारण 88 फीसदी वेंटिलेटर बेड भर चुके हैं। साथ ही कंटेनमेंट जोन भी तेजी से बढ़ रहे हैं। 1 से 16 नवंबर के बीच एक हजार से ज्यादा रेड जोन बनाए गए हैं।

इस माह की स्थिति
संक्रमित      1,02,496
 मौतें            1202
 स्वस्थ हुए   93,885 
 कोविड अस्पतालों में भर्ती     2690 मरीज
 सक्रिय मरीज बढ़े                7,409
( नोट- आंकड़े स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक हैं)

दिल्ली फिलहाल संक्रमण के सबसे बुरे दौर से गुजर रही है। विगत 16 दिनों में ही कोरोना के 1 लाख से ज्यादा मामले आ चुके हैं। संक्रमण दर भी 13 फीसदी हो गई है। वहीं, मौत के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, इस माह अब तक 1,02,496 नए मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई है, जबकि, 1202 लोगों की मौत हो चुकी है। 

इस दौरान रोजाना औसत 6,406 नए मामले आए हैं। वहीं, 76 मरीजों ने जान गंवाई है। ऐसा पहली बार है कि महज 16 दिनों में ही इतने मामले आए। इस समय कम जांच होने पर भी संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है। इसके चलते संक्रमण दर 6 फीसदी से बढ़कर 13 फीसदी हो गई है। 

राहत की बात यह है कि इस दौरान 93,885 मरीज स्वस्थ भी हुए हैं। हालांकि, गंभीर मरीजों की संख्या बढ़ रही है। इस कारण 88 फीसदी वेंटिलेटर बेड भर चुके हैं। साथ ही कंटेनमेंट जोन भी तेजी से बढ़ रहे हैं। 1 से 16 नवंबर के बीच एक हजार से ज्यादा रेड जोन बनाए गए हैं।

इस माह की स्थिति
संक्रमित      1,02,496
 मौतें            1202
 स्वस्थ हुए   93,885 
 कोविड अस्पतालों में भर्ती     2690 मरीज
 सक्रिय मरीज बढ़े                7,409
( नोट- आंकड़े स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक हैं)

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5