57-hour Marathon Curfew In Ahmedabad Gujarat From Today Panic Buying In Kalupur Market School Reopen Decission Know What Will Remain Open – अहमदाबाद में आज से लगेगा 57 घंटे का कर्फ्यू, लोगों में हड़कंप, जानें क्या खुलेगा और क्या नहीं?

अहमदाबाद के कालूपुर बाजार में इस तरह उमड़े लोग।
– फोटो : सोशल मीडिया

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

कोरोना के तेजी से बढ़ते संक्रमण को देखते हुए गुजरात के अहमदाबाद में आज से 57 घंटे का मैराथन कर्फ्यू शुरू हो जाएगा। यह कर्फ्यू शुक्रवार यानी आज रात 9 बजे शुरू होगा और सोमवार 23 नवंबर सुबह 6 बजे तक जारी रहेगा। इस बीच पूरे शहर में लंबा लॉकडाउन लगने की अफवाह फैल गई, जिसके बाद लोग बाजारों में जरूरी वस्तुएं खरीदने के लिए उमड़ पड़े। हालात ऐसे हो गए कि कालूपुर मार्केट में पैर रखने तक की जगह नहीं बची है। ऐसे में मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने लोगों से अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील की। साथ ही, 23 नवंबर से स्कूल खुलने के फैसले में भी बदलाव कर दिया। इस रिपोर्ट में जानते हैं कि 57 घंटे के मैराथन कर्फ्यू के दौरान अहमदाबाद में क्या खुला रहेगा और क्या नहीं?

आज रात से शुरू होगा कर्फ्यू
गुजरात के आईएएस अधिकारी डॉ. राजीव कुमार गुप्ता ने 57 घंटे के मैराथन कर्फ्यू को लेकर ट्वीट किया। उन्होंने लिखा था, ‘देर रात कोरोना स्थिति की समीक्षा की गई। इसके बाद यह निर्णय लिया गया कि पूर्ण कर्फ्यू शुक्रवार रात 9:00 बजे से सोमवार सुबह 6:00 बजे तक अहमदाबाद शहर में लगाया जाएगा। इस अवधि के दौरान सिर्फ दूध और दवाइयां बेचने वाली दुकानों को खुला रहने दिया जाएगा।’

स्कूल खोलने का फैसला बदला
बता दें कि गुजरात सरकार ने 23 नवंबर से अहमदाबाद के स्कूलों को खोलने का फैसला किया था। अब कोरोना के बढ़ते मामलों और 57 घंटे के कर्फ्यू लगने के बाद इस फैसले को टाल दिया गया है। दरअसल, कर्फ्यू का ऐलान होने के बाद शिक्षा विभाग ने अपना फैसला वापस ले लिया। 

लोगों में हड़कंप, बाजारों में भीड़
जानकारी के मुताबिक, अहमदाबाद में 57 घंटे के कर्फ्यू के ऐलान के बाद लोगों में हड़कंप मच गया। इसका असर सुबह होते ही नजर आने लगा और बाजारों में भीड़ उमड़ पड़ी। इस दौरान अहमदाबाद के कालूपुर बाजार में पैर रखने तक की जगह नहीं बची। दरअसल, अहमदाबाद में लंबा लॉकडाउन लगने की अफवाह फैल गई थी। ऐसे में सीएम विजय रूपाणी ने खुद आगे आकर लोगों को समझाने की कोशिश की। उन्होंने कहा, ‘यह सिर्फ अफवाह है। गुजरात में लॉकडाउन नहीं लगेगा। यह सिर्फ वीकेंड कर्फ्यू है, जो शुक्रवार रात 9 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक ही रहेगा।’

कर्फ्यू में क्या खुलेगा और क्या नहीं?
आईएएस डॉ. राजीव कुमार गुप्ता के मुताबिक, अहमदाबाद में नाइट कर्फ्यू के दौरान सिर्फ जरूरी चीजों की दुकानें ही खुली रहेंगी। इनमें दवा और दूध की दुकानें मुख्य रूप से खोली जाएंगी। इसके अलावा अहमदाबाद के लिए 300 डॉक्टर, 300 मेडिकल छात्र और 20 अतिरिक्त एंबुलेंस तैनात की गई हैं।

कोरोना के तेजी से बढ़ते संक्रमण को देखते हुए गुजरात के अहमदाबाद में आज से 57 घंटे का मैराथन कर्फ्यू शुरू हो जाएगा। यह कर्फ्यू शुक्रवार यानी आज रात 9 बजे शुरू होगा और सोमवार 23 नवंबर सुबह 6 बजे तक जारी रहेगा। इस बीच पूरे शहर में लंबा लॉकडाउन लगने की अफवाह फैल गई, जिसके बाद लोग बाजारों में जरूरी वस्तुएं खरीदने के लिए उमड़ पड़े। हालात ऐसे हो गए कि कालूपुर मार्केट में पैर रखने तक की जगह नहीं बची है। ऐसे में मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने लोगों से अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील की। साथ ही, 23 नवंबर से स्कूल खुलने के फैसले में भी बदलाव कर दिया। इस रिपोर्ट में जानते हैं कि 57 घंटे के मैराथन कर्फ्यू के दौरान अहमदाबाद में क्या खुला रहेगा और क्या नहीं?

आज रात से शुरू होगा कर्फ्यू

गुजरात के आईएएस अधिकारी डॉ. राजीव कुमार गुप्ता ने 57 घंटे के मैराथन कर्फ्यू को लेकर ट्वीट किया। उन्होंने लिखा था, ‘देर रात कोरोना स्थिति की समीक्षा की गई। इसके बाद यह निर्णय लिया गया कि पूर्ण कर्फ्यू शुक्रवार रात 9:00 बजे से सोमवार सुबह 6:00 बजे तक अहमदाबाद शहर में लगाया जाएगा। इस अवधि के दौरान सिर्फ दूध और दवाइयां बेचने वाली दुकानों को खुला रहने दिया जाएगा।’

स्कूल खोलने का फैसला बदला
बता दें कि गुजरात सरकार ने 23 नवंबर से अहमदाबाद के स्कूलों को खोलने का फैसला किया था। अब कोरोना के बढ़ते मामलों और 57 घंटे के कर्फ्यू लगने के बाद इस फैसले को टाल दिया गया है। दरअसल, कर्फ्यू का ऐलान होने के बाद शिक्षा विभाग ने अपना फैसला वापस ले लिया। 

लोगों में हड़कंप, बाजारों में भीड़
जानकारी के मुताबिक, अहमदाबाद में 57 घंटे के कर्फ्यू के ऐलान के बाद लोगों में हड़कंप मच गया। इसका असर सुबह होते ही नजर आने लगा और बाजारों में भीड़ उमड़ पड़ी। इस दौरान अहमदाबाद के कालूपुर बाजार में पैर रखने तक की जगह नहीं बची। दरअसल, अहमदाबाद में लंबा लॉकडाउन लगने की अफवाह फैल गई थी। ऐसे में सीएम विजय रूपाणी ने खुद आगे आकर लोगों को समझाने की कोशिश की। उन्होंने कहा, ‘यह सिर्फ अफवाह है। गुजरात में लॉकडाउन नहीं लगेगा। यह सिर्फ वीकेंड कर्फ्यू है, जो शुक्रवार रात 9 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक ही रहेगा।’

कर्फ्यू में क्या खुलेगा और क्या नहीं?
आईएएस डॉ. राजीव कुमार गुप्ता के मुताबिक, अहमदाबाद में नाइट कर्फ्यू के दौरान सिर्फ जरूरी चीजों की दुकानें ही खुली रहेंगी। इनमें दवा और दूध की दुकानें मुख्य रूप से खोली जाएंगी। इसके अलावा अहमदाबाद के लिए 300 डॉक्टर, 300 मेडिकल छात्र और 20 अतिरिक्त एंबुलेंस तैनात की गई हैं।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5