YouTuber Rashid Siddiqui threatened Akshay Kumar with legal action after receiving a defamation notice | 500 करोड़ के मानहानि केस में अक्षय पर भड़का यूट्यूबर, बोला- नोटिस वापस लें या कानूनी कार्रवाई के लिए तैयार रहें

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

16 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

यूट्यूबर राशिद सिद्दीकी ने अक्षय कुमार के 500 करोड़ रुपए के मानहानि के नोटिस का विरोध किया है और उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की धमकी दी है। सिद्दीकी ने अपने वकील जेपी जायसवाल के जरिए भेजे जवाब में कहा है कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में उन्होंने जो वीडियो बनाए, उनमें कुछ भी अपमानजनक नहीं है। उन्होंने अक्षय कुमार द्वारा लगाए गए आरोपों को झूठा, अफसोसजनक और दमनकारी बताया है और कहा है कि इन आरोपों का उद्देश्य उन्हें परेशान करना है।

‘बोलने की आजादी मौलिक अधिकार है’

जायसवाल ने जवाब में लिखा है कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले को सिद्दीकी समेत कई स्वतंत्र पत्रकारों ने कवर किया, क्योंकि कई प्रभावशाली लोग इसमें शामिल थे और जाने-माने मीडिया चैनल्स सही जानकारी नहीं दे रहे थे। उन्होंने यह भी लिखा है कि बोलने की आजादी नागरिकों का मौलिक अधिकार है। सिद्दीकी द्वारा अपलोड किए गए कंटेंट को अपमानजनक नहीं माना जा सकता, क्योंकि उन्होंने निष्पक्षता के साथ अपना नजरिया रखा।

‘पहले ही पब्लिक डोमेन में थी जानकारी’

जवाब में जायसवाल ने आगे लिखा है- “सिद्दीकी द्वारा रिपोर्ट की गई न्यूज पहले से ही पब्लिक डोमेन में थी और उन्होंने सूत्रों के तौर पर अन्य न्यूज चैनल्स का हवाला दिया था। इसके अलावा मानहानि का नोटिस देरी से भेजने पर भी सवाल खड़ा होता है, क्योंकि वीडियो अगस्त 2020 में अपलोड किए गए थे।”

‘500 करोड़ का हर्जाना बेतुका, अनुचित’

जायसवाल लिखते हैं- “500 करोड़ रुपए का हर्जाना एकदम बेतुका और अनुचित है और यह सिद्दीकी पर दबाव बनाने के इरादे से मांगा गया है। सिद्दीकी अक्षय कुमार से अपना नोटिस वापस लेने की अपील करते हैं और अगर वे ऐसा नहीं करते तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई शुरू की जाएगी।”

अक्षय के पुराने इंटरव्यू का जिक्र भी किया

जायसवाल ने अपने जवाब में लिखा है, “जब अक्षय कुमार ने एक प्रभावशाली राजनेता (पीएम नरेंद्र मोदी) का इंटरव्यू लिया था, तब कई यूट्यूब वीडियोज और वेबसाइट्स पर उन्हें निशाने पर लिया गया था और उनके खिलाफ व्यक्तिगत कमेंट किए गए थे। हैरानी की बात है कि उस वक्त अक्षय ने कोई भी एक्शन नहीं लिया। लेकिन, उन्होंने सिलेक्टिवली सिद्दीकी को मानहानि के आरोप के लिए चुन लिया।”

अक्षय का यूट्यूबर पर क्या आरोप है?

बुधवार को अक्षय कुमार ने राशिद सिद्दीकी को 500 करोड़ रुपए का मानहानि का नोटिस भेजा था। अक्षय का यूट्यूबर पर आरोप है कि उसने सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े फर्जी वीडियो पोस्ट किए थे और उन पर रिया चक्रवर्ती को कनाडा भागने में मदद करने आरोप लगाया था। साथ ही दावा किया था कि सुशांत केस में अक्षय महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और उनके बेटे आदित्य से गुपचुप बात कर रहे हैं। (पढ़ें पूरी खबर)

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5 Difference Between Apple Watch 4 And 5